राधा से प्यार किया तो श्याम बन गये??जबरदस्ती प्यार किया तो

शुक्र है बीबियां दारु नहीं पीती..
.वरना
जो बिन पियें इतनी बकबक करती हो..पी ले तो कोहराम मचा दे !!


विज्ञापनो की मम्मी कितनी अच्छी होती है.
बच्चे कपड़े गंदे करके आए तो भी हँस के धोती है.

बचपन में जब हम कपडे गंदे कर के आते थे,
तो पहले हम धुलते थे, बाद में कपड़े

“सवाल – “कौन-सी जाती के लोग सबसे अच्छे नागरिक होते है ?”
जवाब – “बनिये…”
.
क्योंकि हर जगह लिखा होता है..
देशभक्त बनिये…
वफादार बनिये…
समझदार बनिये…
पढ़े लिखे बनिये…
इमानदार बनिये…
शाकाहारी बनिये” –

जिन्दगी एक जंग है,
जब तक बीवी संग है
सीता से प्यार किया तो राम बन गये
राधा से प्यार किया तो श्याम बन गये
जबरदस्ती प्यार किया तो आशाराम……बन गये.

और कीसी से प्यार नहीं किया तो बाबा रामदेव बन गए

बाप ने देखा कि बेटा जीन्स का
बटन टांक रहा था….
.
बाप : “बेटा..हमने तुम्हारा विवाह कराया,
बहू घर आयी….
फिर भी तुम अपनी पेंट पर
खुद ही बटन टांक रहे हो?”
..
बेटा : “पिताजी..आप गलत सोच रहे हैं.
यह जीन्स उसी की है।
..
* पिताजी बेहोश *

मैंने तो घरवालों से साफ कह दिया है
4 जून को अगर किसी ने टीवी  के रिमोट के हाथ लगाया तो समझो बाहुबली की तलवार को हाथ लगाया

एक दुखी पति की कलम से…
काश के शादी के लिए भी लोन
की सुविधा उपलब्ध होती और किश्तें
ना चुकाने की स्थिति में बैंक वाले
बीवी को जब्त कर लेते…