whatajokedad, padman, review

ट्विंकल खन्ना का क्या मकसद है पीरियड्स और पैड्स के बारे में फिल्म बनाने का 

ट्विंकल खन्ना pad man की producer है और उन्होंने एक इवेंट के दौरान एक कहानी सुनाई जिसके अनुसार एक बार बोर्डिंग स्कूल में वह अचानक महसूस करती है की उसके कपड़ो में दाग लग गया है। अब इस पर वह किसी से बात करने के बजाय हॉस्टल के कमरे में जाकर अपने कपडे बदल लेती है।

Related image

source

ट्विंकल खन्ना ने एक कहानी और सुनाई। जिसके मुताबिक दक्षिण भारत की एक स्कूल में एक 12 साल की बच्ची को पीरियड्स आये तो उसकी सिट गन्दी हो गयी थी। तो टीचर ने उसे बहार निकल दिया था। अब इस घटना से शर्म सार होकर वह खिड़की से कूद पड़ी और उसने अपनी जान दे दी। जब टीचर से पूछा गया तो उसने कहा की उसे लगा की वह एक नार्मल बात है और वह ऐसा कर लेगी इसकी कोई उम्मीद नहीं थी।

Related image

source

ट्विंकल खन्ना लगातार अपने फिल्म का promotion कर रही है ताकि जब 9 फेब्रुअरी को यह लगे तो थिएटर में बिलकुल खचा खच भीड़ मिले। सोनम कपूर ने स्कूल में मुफ्त में पैड बाटें। यह फिल्म बनाने के पीछे एक मकसद यह है की इससे लड़कियों की शर्म थोड़ी कम हो सकें क्योंकि यह वो अपनी मर्जी से नहीं करती यह तो भगवन का एक वरदान है।

Related image

source

Related image

source

यह फिल्म एक एतिहासिक घटना पर आधारित है। इसमें अरुणाचल के निवासी मुरुग्नंदन की जीवन शैली बताई गयी है जिसमें की वह पूरी गाँव की महिलाओ के लिए पैड का निर्माण करता है।

फिल्म में भी अक्षय कुमार पैड का निर्माण करता है और बड़े ही सस्ते दामो पर उसे बेचते है। इन सब कामों से उसकी पत्नी को शर्मिंदगी महसूस होती है। अब देखना यह है की लड़कियों पर इसका क्या असर होता है।

Related image

source

Twinkle Khanna is the producer of pad man and he narrated a story during an event, according to which, once in boarding school he suddenly feels that his clothes got stained. Now instead of talking to anyone on this, he changes his clothes in the hostel’s room.
Twinkle Khanna narrated a story and According to which a 12-year-old girl in a school in South India came to Period, her seat became dirty. Then the teacher had left him out. Now she was shamed by this incident and she jumped from the window and she gave her life. When the teacher was asked, he said that he thought that he is a normal thing and that he would do it, there was no hope.
Twinkle Khanna is constantly promoting her film so that when it takes place at 9th Febriari, there is a huge expense crowd in the theater. Sonam Kapoor shares Pad in the school for free The purpose behind this film is that it can reduce the shame of the girls because it does not do it by its own will, it is a boon of God.
This film is based on a historical event. It describes the life style of Muruganandan, a resident of Arunachal, in which he builds a pad for the women of the entire village.
Akshay Kumar also produces pad in the film and sells it at very cheap prices. All these things make his wife feel embarrassed. Now it is to see how it affects girls.

 

news source